beauty2 heart-circle sports-fitness food-nutrition herbs-supplements

एक्जिमा को प्राकृतिक रूप से ठीक करने के लिए एक त्वचा विशेषज्ञ के सुझाव

डॉ. जेनी लियू द्वारा

इस लेख में:


एक्जिमा एक आम, पुरानी, इंफ्लेमेटरी त्वचा की स्थिति है। 10 में से एक व्यक्ति के जीवनकाल में एक्जिमा उभरता है। जब त्वचा प्रभावित होती है, तो खुजली, लाल, पपड़ीदार और सूखी हो जाती है। खरोंच के कारण त्वचा भंग होने से संक्रमण हो सकता है। एक्जिमा किसी भी उम्र में हो सकता है, लेकिन ज्यादातर बचपन में शुरू होता है।

एक्जिमा के विभिन्न प्रकार क्या हैं?

  • एटोपिक डर्मेटाइटिस एक्जिमा का सबसे आम प्रकार है। यह आमतौर पर बचपन के दौरान शुरू होता है, जबकि अन्य रूप वयस्कता में उभर सकते हैं। एटोपिक डर्मेटाइटिस अक्सर मौसमी एलर्जी और अस्थमा से जुड़ी होती है, और अक्सर परिवार में बढ़ती है।
  • सेबोरहैक डर्मेटाइटिस एक अन्य सामान्य प्रकार है और रूसी या क्रैडल कैप के रूप में प्रकट होती है। इसके अतिरिक्त, इसमें चेहरा, कान, शरीर और निजी भाग भी शामिल हो सकते हैं।
  • संपर्क डर्मेटाइटिस एक और रूप है जहां व्यक्ति विशेष को उत्पादों या रसायनों के कारण सूजन और रैश पैदा हो सकती हैं।
  • हैंड एक्जिमा एक और प्रकार है जो बहुत कमज़ोर हो सकता है और अक्सर इलाज के लिए चुनौतीपूर्ण होता है। यह अक्सर उंगलियों और हथेलियों पर बेहद खुजली वाले उभार के साथ शुरू होता है, और कभी-कभी पैर भी प्रभावित होते हैं। खरोंच लगने पर ये उभार अक्सर फफोले में बदल जाते हैं और फिर फट जाते हैं, जिससे खुले घाव और पपड़ी बन जाती है। जब पैरों में भी हो जाता हैं, तो चलना भी दर्दनाक हो सकता है।
  • न्यूमुलर, या सिक्के के आकार के चकत्ते, हाथ और पैरों में बन जाते हैं। यह आमतौर पर सर्दियों के दौरान और वयस्कों या बुजुर्ग व्यक्तियों में देखा जाता है क्योंकि उम्र के साथ हाथ-पांव की त्वचा सूख जाती है।

एक्जिमा के कारण क्या हैं?

एक्जिमा के कारणों में आनुवांशिक और पर्यावरण संबंधी दोनों कारक शामिल हैं। एक्जिमा से ग्रस्त व्यक्तियों को अक्सर शुष्क त्वचा के लिए आनुवंशिक प्रवृत्ति विरासत में मिली होती है। हमारी त्वचा एक सुरक्षात्मक बैरियर के रूप में कार्य करती है: पानी ज्यादा पीएं और एलर्जी और बैक्टीरिया जैसी बुरी चीजों को बाहर निकालें। जब हमारी त्वचा सूख जाती है, तो यह पर्याप्त बैरियर का कार्य करने में असमर्थ हो जाती है। माइक्रोट्रामा हो जाने से त्वचा में सूजन हो जाती है, जिससे खुजली और रैश होते हैं।

सर्दियों के दौरान मौसम के शुष्क और ठंडे होने पर एक्जिमा अधिक होता है। तनाव की भी एक्जिमा में प्रमुख भूमिका है। अन्य सामान्य ट्रिगर्स में गर्मी, पसीना और खुरदरे कपड़े शामिल हैं। रूखी त्वचा वाले व्यक्ति भी त्वचा की देखभाल के उत्पादों में सुगंध और रक्षक के प्रति अधिक संवेदनशील होते हैं और इसलिए उनमें संपर्क डर्मेटाइटिस अधिक विकसित होने की संभावना होती है।

मैं घर पर प्राकृतिक स्वाभाविक रूप से एक्जिमा का इलाज कैसे कर सकता/सकती हूँ?

एक्जिमा अक्सर आता-जाता रहता है, इसलिए स्वस्थ त्वचा की देखभाल की आदतों को विकसित करना महत्वपूर्ण है। चूंकि मूल कारण सूखी त्वचा है, एक्जिमा को रोकने के लिए दैनिक कोमल त्वचा की देखभाल करना महत्वपूर्ण है।

दैनिक शावर या स्नान की सलाह दी जाती है, लेकिन पानी के संपर्क समय को 10 मिनट या उससे कम रखें और गर्म पानी से बचें क्योंकि यह त्वचा को सुखा देगा। साबुन को केवल बगल और निजी भागों तक सीमित रखें। हमें हर जगह साबुन की ज़रूरत नहीं है, वह हमारी त्वचा के प्राकृतिक तेल को छीन सकता है। शावर के बाद, धीरे से थपथपा कर सुखा लें और रगड़ने या रगड़ कर सफ़ाई से बचें। जबकि आपकी त्वचा अभी भी नम है, तो अधिक समय तक टिकने वाला मॉइस्चराइज़र सिर से पैर तक लगाएं।

एक्जिमा के लिए मुझे किन उत्पादों का उपयोग करना चाहिए?

सामान्य तौर पर, ऐसे उत्पादों से चिपके रहते हैं जो खुशबू वाले - और संरक्षक मुक्त होते हैं। जब शावर लेते हैं, तो झाग वाले उत्पादों से बचें, और इसके बजाय विशेष रूप से एक्जिमा या संवेदनशील त्वचा के लिए तैयार साबुन की खोज करें। चेहरे के लिए, जेंटल क्रीमी क्लीन्ज़र या क्लींजिंग लोशन ही इस्तेमाल कर रहें है जो अभी भी गंदगी और मेकअप को हटाने में प्रभावी हैं लेकिन त्वचा के लिए रूखे हैं।

क्योंकि मॉइस्चराइज़र और एमोलिएंट्स, आमतौर पर मोटी संरचना या यहां तक कि लेप-आधारित उत्पाद त्वचा पर पानी में सील करने के लिए सबसे अच्छे होते हैं। सेरैमाइड प्राकृतिक लिपिड हैं जो अक्सर त्वचा में एक्जिमा के साथ कमी से होते हैं। त्वचा बैरियर के पुनर्निर्माण में सेरैमाइड युक्त मॉइस्चराइज़र अधिक प्रभावी होते हैं। यह भी खोजें कि संवेदनशील या एक्जिमा प्रोन त्वचा के लिए  विशेष रूप से तैयार किए गए उत्पादों को ही लें क्योंकि ये आमतौर पर खुशबू से मुक्त और हाइपोएलर्जेनिक होते हैं।

एक्जिमा ठीक करने के लिए अन्य घरेलू और लाइफस्टाइल टिप्स

अपनी त्वचा पर स्क्रबिंग को सीमित करें। दैहिक मालिश त्वचा में मिक्रोटेअर्स पैदा करेगी, जिससे एक्जिमा हो सकता है या पूर्वनिर्मित रैश उभर सकते हैं। ऊन और खुरदरी सामग्री या कपड़े की प्रधानता व्यक्ति को खराश पैदा करेगी। कपड़ों के लिए सांस लेने में आसान सूती सामग्री का उपयोग करें।

त्वचा की देखभाल के लिए, एक्सफ़ोलीएटिंग को महीने में केवल कुछ बार तक सीमित करें। रेटिनॉल या अल्फा-हाइड्रॉक्सी एसिड उत्पादों से सावधान रहें। ये अधिक सूखते हैं। यदि आपके लिए वह नए हैं, तो तब शुरू करें जब आपकी त्वचा पर डर्मटाइटिस न हो, और केवल कुछ साप्ताहिक रातों में उपयोग करें और सहन करने पर रात को धीरे धीरे बढ़ाएं। यदि आपकी एक्जिमा हो जाता है, तो उपयोग से थोड़ा ब्रेक लें।

रात में खुजली और अधिक बढ़ जाती है। अधिक ठंडे तापमान में सोने से खुजली कम हो जाएगी। हीटिंग कंबल से बचें; गर्मी खुजली को और बड़ा सकती है और आपकी त्वचा को सूखा भी सकती है। कई महीनों में नमी आपके बेडरूम में वापस आ सकती है।

जब त्वचा में बहुत खुजली होती है, तो खराश से और अधिक खुजली और रैश हो जायेंगे। बजाय इसके, सूखी त्वचा को शांत करने और खुजली से राहत पाने के लिए कलॉइडल ओटमील का स्नान 10-15 मिनट तक करें। कूल कोम्प्रेस न केवल सूजन वाली त्वचा को शांत करेगा, बल्कि खुजली के अहसास को भी कम करेगा।

व्यक्तियों में हाथ का एक्जिमा होने की संभावना के लिए, याद रखें कि बार-बार हाथ धोने से त्वचा में जलन हो सकती है। हर बार हाथ धोने केतुरंत बाद हैंड क्रीम लगाने से मदद मिल सकती है। बर्तन धोने या रसायनों के संपर्क में आने से पहले रबर के दस्ताने से हाथों की रक्षा करना भी मददगार होता है।

आहार और एक्जिमा

आहार और एक्जिमा एक विवादास्पद विषय है। आज तक कोई अध्ययन नहीं हुआ है जिससे पता चला है कि कुछ खाद्य पदार्थ सीधे एक्जिमा का कारण होते हैं। जिन व्यक्तियों में गंभीर एक्जिमा होता है और मौसमी एलर्जी का एक मजबूत इतिहास होता है, उनमें खाद्य एलर्जी विकसित होने की अधिक संभावना होती है, लेकिन प्रतिक्रियाएं प्रतिरक्षात्म रूप से समान नहीं होती हैं।

एनाफिलैक्सिस के खतरे से बचने के लिए जिन खाद्य पदार्थों से एलर्जी है, उन्हें खाने से बचना चाहिए, लेकिन उन खाद्य पदार्थों का सेवन करने से एक्जिमा नहीं हो सकता है। जब तक किसी विशेष भोजन को खाने और रैश के बीच कोई स्पष्ट संबंध नहीं होता है, तब तक भोजन पर प्रतिबंध की सलाह नहीं दी जाती है, खासकर छोटे बच्चों और शिशुओं के लिए। फिर भी, स्वस्थ वसा और प्रोटीन से भरपूर एक संतुलित आहार खाना आम तौर पर शरीर के लिए अच्छा होता है। प्रो-इंफ्लेमेटरी खाद्य पदार्थ जैसे उच्च ग्लाइसेमिक इंडेक्स या अत्यधिक प्रासेस्ट खाद्य पदार्थों से बचना सहायक हो सकता है।

नैदानिक ​​अध्ययनों से पता चला है कि एक्जिमा वाले व्यक्तियों में, दैनिक प्रोबायोटिक  लेने से रोग की गंभीरता कम हो सकती है। मछली का तेलजो ओमेगा -3 फैटी एसिड में उच्च होता है, त्वचा के पुनर्निर्माण और सूजन से लड़ने में मदद कर सकता है।

एक्जिमा के लिए मुझे त्वचा विशेषज्ञ के पास कब जाना चाहिए?

एक्जिमा अक्सर बैक्टीरिया से संक्रमित हो सकता है। यदि आपकी त्वचा दर्दनाक, रिसने वाली और क्रस्टिंग है, जो संक्रमण का संकेत हो सकता है तब अपने त्वचा विशेषज्ञ को दिखाएं। त्वचा संक्रमण के परीक्षण और उपचार के अलावा, आपका त्वचा विशेषज्ञ सूजन वाली त्वचा को शांत करने के लिए स्थानीय दवाएं भी लिख सकता है। अंत में, जब कोमल त्वचा की देखभाल और घरेलू उपचार विफल हो गए हों तो आपका त्वचा विशेषज्ञ अतिरिक्त सुझाव और उपचार कर सकता है।

संबंधित लेख

सभी देखें

सौंदर्य

पूरी तरह से मुँहासों के उपचार के सर्वोत्तम सुझाव

सौंदर्य

फाइटोस्टेरॉल क्या हैं? इस संघटक के साथ त्वचा को प्लम्प और हाइड्रेट करें!

सौंदर्य

क्यों पिकनोजिनोल (देवदार की छाल का रस) त्वचा-देखभाल उद्योग का अगला शहंशाह है