beauty2 heart-circle sports-fitness food-nutrition herbs-supplements

बड़ी आँत और बर्बरीन एक अध्ययन द्वारा इसके एंटीऑक्सिडेंट प्रभाव की पुष्टि की गई है।

एरिक मैड्रिड एमडी द्वारा

बरबेरिन क्या है?

बर्बरीन को बरबेरी (बर्बेरिस वल्गेरिस) की झाड़ीयों से प्राप्त किया जाता है, जिसमें ऐसे पौधे होते हैं जो सदाबहार और पतझड़ी दोनों होते हैं। बरबेरी यूरोप, उत्तरी अफ्रीका, मध्य पूर्व और पूरे एशिया में पाया जाता है। ये उत्पादित छोटे फल  विटामिन सी, का एक समृद्ध स्रोत हैं, जो  रोग प्रतिरोधक शक्ति, हृदय, मस्तिष्क और त्वचा के स्वास्थ्यको बढ़ावा देने में मदद कर सकते हैं। 

बर्बरिन सक्रिय तत्व है और इसका खाद्य जड़ी-बूटियों या पूरक के रूप में सेवन किया जाता है। वैज्ञानिक अध्ययनों द्वारा इसके विभिन्न स्वास्थ्य लाभों को दर्शाया गया है। यह आमतौर पर पारंपरिक चीनी चिकित्सा (टीसीएम) और आयुर्वेदिक चिकित्सा में उपयोग किया जाता है, जो एक पारंपरिक चिकित्सा पद्धति है जो भारत में उत्पन्न हुई थी। 

बरबेरिन का इस्तेमाल किसलिए किया जाता है? 

सदियों से प्राचीन चिकित्सकों द्वारा बर्बरिन का इस्तेमाल संक्रामक डायरिया के उपचार में कारगर होने के तौर पर किया जाता रहा है। इसमें  एंटीऑक्सिडेंट  गुण भी होते हैं जो सूजन को कम करने में मदद कर सकते हैं और हृदय रोग के रोकथाम और उपचार हेतु इससे पीड़ित लोगों के लिए फायदेमंद हो सकते हैं।

इसके अलावा, बर्बरिन रक्त शर्करा को कम करने, बैक्टीरिया और वायरस से लड़ने में मदद कर सकता है और बड़ी आँत में मौजूद जंतुओं को विकसित होने से रोकने में भी मदद कर सकता है। 

बरबेरिन और कोलोन का स्वास्थ्य 

कुछ प्रकार के बड़ी आँत के जंतुओं को पूर्व-कैंसर सम्बन्धी माना जाता है और यदि इन्हें नहीं हटाया गया तो बड़ी आँत के कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। पूर्व-कैंसर सम्बन्धी जंतु जो कैंसर में बदल सकते हैं, वे एडेनोमा कहलाते हैं। उन्हें बढ़ने और / या फिर से होने से रोकना फायदेमंद हो सकता है।

बड़ी आँत का कैंसर दुनिया भर में 20 लोगों में से 1 को प्रभावित कर सकता है और पुरुषों में तीसरा और महिलाओं में दूसरा सबसे आम कैंसर है। 2018 में, दुनिया भर में लगभग 20 लाख लोगों को बड़ी आँत के कैंसर से पीड़ित पाया गया था। 

बड़ी आँत के कैंसर के जोखिम कारकों में वृद्धावस्था, पारिवारिक इतिहास, कम रेशे वाला आहार, गतिहीन जीवन शैली और कुछ प्रकार के बड़ी आँत में मौजूद जंतु शामिल हैं। एक स्वस्थ आहार, नियमित व्यायाम और बड़ी आँत के कैंसर के लिए स्क्रीनिंग इसकी रोकथाम का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। जनवरी 2020 के एक अध्ययन से पता चला है कि बर्बरिन बड़ी आँत में मौजूद जंतुओं के विकास को रोकने में मददगार हो सकता है। 

शोधकर्ताओं ने 800 से अधिक लोगों में एक प्लेसबो गोली बनाम  बर्बरिन  के लाभों का मूल्यांकन किया। चीन के 7 अस्पतालों में यह द्वी-पक्षीय प्लेसबो-नियंत्रित परीक्षण किया गया था। अध्ययन में शामिल लोगों की उम्र 18-75 वर्ष के बीच थी। विषयों में पूर्व-कैंसर सम्बन्धी बड़ी आँत के जंतुओं, विशेष रूप से, ट्यूबलर एडेनोमास का इतिहास था। 

429 रोगियों को प्रति दिन दो बार 300 मिलीग्राम बर्बरिन दिया गया, जबकि 462 रोगियों को प्लेसीबो गोली दी गई। अध्ययन शुरू करने के 1 और 2 साल बाद प्रतिभागियों की कोलोनोस्कोपी हुई। अध्ययन के अंत में, जिन लोगों ने बर्बरिन लिया था उनमें से 155 या 36% को बार-बार बड़ी आँत में जंतुओं की समस्या होती रही। प्लेसीबो लेने वाले समूह में, 216, या 47% में बार-बार बड़ी आँत में जंतुओं की समस्या देखी गई।

 शोधकर्ताओं ने निष्कर्ष निकाला कि जो लोग बर्बरिन लेते थे, उनमें बार-बार बड़ी आँत में जंतुओं की समस्या होने की संभावना 23 प्रतिशत कम थी। 

इस अध्ययन से पता चलता है कि बर्बरिन बड़ी आँत में जंतुओं के विकास को कम करने में मदद करने के लिए एक प्रभावी रणनीति हो सकती है। यह महत्वपूर्ण है कि उन 50 वर्ष या उससे अधिक उम्र के लोग अपने डॉक्टर से बड़ी आँत के कैंसर स्क्रीनिंग परीक्षणों के बारे में सलाह लें। परिवार में इसके इतिहास वाले लोगों को 50 वर्ष की आयु से पहले जांच की आवश्यकता हो सकती है। 

References: 

  1. Berberine and its derivatives: a patent review (2009 - 2012). Singh IP, Mahajan S Expert Opin Ther Pat. 2013 Feb; 23(2):215-31
  2. Drug Metab Rev. 2017 May;49(2):139-157. doi: 10.1080/03602532.2017.1306544. Epub 2017 Apr 3.
  3. Lancet Gastroenterol Hepatol. 2020 Jan 8. pii: S2468-1253(19)30409-1. doi: 10.1016/S2468-1253(19)30409-1. 

संबंधित लेख

सभी देखें

बीमारियाँ

3 प्रकार के सिरदर्द + कैसे उनकी रोकथाम करें और प्रत्येक का इलाज करें

बीमारियाँ

रक्तचाप को कम करने की 8 प्राकृतिक पद्धतियाँ

बीमारियाँ

हाशिमोटो रोग में देखभाल संबंधी 6 प्राकृतिक तरीके