checkoutarrow
IN
24/7 सहायता
beauty2 heart-circle sports-fitness food-nutrition herbs-supplements
बीमारियाँ

क्या विटामिन डी ऊपरी श्वसन तंत्र के संक्रमणों के विरुद्ध सुरक्षा कर सकता है?

6 जनवरी 2020

एरिक मैड्रि्ड एमडी द्वारा

यदि दुनिया में कोई विटामिन है जो किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य कोअच्छी हालत में रखने में मदद कर सकता है, तो वह विटामिन डी है (जिसे विटामिन डी3 या कोलीकैल्सीफेरॉल भी कहते हैं)। हाल के शोध से पता चला है कि विटामिन डी आम सर्दी-जुकाम, जिसे ऊपरी श्वसन तंत्र के संक्रमण के नाम से भी जाना जाता है, की रोकथाम करने में बड़ी भूमिका निभा सकता है। 

विटामिन डी कैसे बनता है?

विटामिन डी को शरीर के भीतर तब मुफ्त बनाया और अवशोषित किया जा सकता है जब आप धूप में समय बिताते हैं—सूरज की अल्ट्रावॉयलेट बी (यूवी-बी) किरणें हमारी त्वचा में कोलेस्ट्राल के एक प्रकार से प्रतिक्रिया करती हैं जिससे विटामिन डी हारमोन बनता है। तथापि, कम धूप वाले महीनों में, विटामिन डी कम मात्रा में पैदा होता है।

विटामिन डी के स्वास्थ्य के लिए लाभ

पिछले दशक में किए गए हजारों अध्ययन विटामिन डी का सही मात्रा में सेवन करने पर स्वास्थ्य के लिए लाभ दर्शाते हैं। ये अध्ययन हमें बताते हैं कि उन लोगों को जिनके खून में विटामिन डी अधिक मात्रा में होता है, दिल के दौरे, स्तन कैंसर, बड़ी आंत के कैंसर, मल्टीपल स्क्लेरोसिस, टाइप 1 और टाइप 2 मधुमेह, उच्च रक्तचाप तथा स्वास्थ्य की अन्य समस्याएं होने का जोखिम कम होता है। 

मेरी दक्षिणी कैलिफोर्निया की प्रैक्टिस में, 80 प्रतिशत लोगों को विटामिन डी की कमी है। उन इलाकों में जहाँ धूप कम निकलती है ऐसा होना अधिक आम है। मैं अपने रोगियों को विटामिन डी वाले पूरक लेने की नियमित रूप से सलाह देता हूँ।

विटामिन डी और श्वसन तंत्र के संक्रमण

2019 में International Journal of Environmental Research and Public Health में प्रकाशित एक अध्ययन में निष्कर्ष निकाला गया कि खून में विटामिन डी की अधिक मात्रा वाले लोगों को विटामिन डी की कम मात्रा वाले लोगों की तुलना में ऊपरी श्वसन तंत्र के संक्रमण होने का जोखिम कम होता है। 

दो अन्य अध्ययनों ने इन निष्कर्षों का समर्थन किया है। सर्वप्रथम, 2017 में British Medical Journa में प्रकाशित एक अध्ययन में 25 यादृच्छीकृत नियंत्रित परीक्षणों का मूल्यांकन किया गया जिनमें शिशुओं से लेकर 95 वर्ष की उम्र तक के 11,321 प्रतिभागी शामिल थे। 

कुल मिलाकर, विटामिन डी के अनुपूरण ने ऊपरी श्वसन तंत्र का संक्रमण होने के जोखिम को 12 प्रतिशत कम किया। जिन लोगों के खून में विटामिन डी की मात्रा 25 नैनोमॉल/ली (10 नैनोग्राम/डीएल) से कम थी उन्हें पूरक देने पर सबसे बड़ा लाभ दिखाई दिया और उनमें संक्रमण की दर में 70% की कमी हुई। जिन रोगियों के खून में विटामिन डी का स्तर 25 नैनोमॉल/ली (10 नैनोग्राम/डीएल) था, उनमें अनुपूरण के बाद श्वसन संक्रमणों में 25% की कमी हुई।

अंत में, 2017 में Journal of the American Geriatric Society में प्रकाशित एक अध्ययन में वृद्ध लोगों में विटामिन डी की मानक खुराक बनाम ऊंची खुराक की तुलना की गई। ऊंची खुराक वाले 55 लोगों के समूह को विटामिन डी के 100,000 आईयू प्रति माह (लगभग 3300 आईयू रोजाना) प्राप्त हुए जबकि 52 लोगों के एक अन्य समूह को एक मासिक प्लेसिबो या 12,000 आईयू प्रति माह (लगभग 400 आईयू/दिन) प्राप्त हुए। यह अध्ययन 4 वर्ष की अवधि में किया गया। जिन लोगों ने ऊंची मात्रा में विटामिन डी लिया , उन्हें अन्य लोगों की तुलना में ऊपरी श्वसन तंत्र का संक्रमण होने की संभावना 40 प्रतिशत कम थी।

मोटे तौर पर, विटामिन डी के सुरक्षित होने की संभावना व्यापक तौर पर स्थापित की गई है। यदि कोई भी शंका हो तो अनुपूरण लेने से पहले अपने डॉक्टर से परामर्श करें।

अनुशंसित खुराक: अधिकांश बच्चे लगभग 1,000 आईयू रोजाना सुरक्षित रूप से ले सकते हैं जबकि कई वयस्क 2,000 से 5,000 आईयू तक रोजाना लेते हैं। 

संदर्भ:

  1. Pham H, Rahman A, Majidi A, Waterhouse M, Neale RE. Acute Respiratory Tract Infection and 25-Hydroxyvitamin D Concentration: A Systematic Review and Meta-Analysis. Int J Environ Res Public Health. 2019;16(17):3020. Published 2019 Aug 21. doi:10.3390/ijerph16173020
  2. Martineau Adrian R, Jolliffe David A, Hooper Richard L, Greenberg Lauren, Aloia John F, Bergman Peter et al. Vitamin D supplementation to prevent acute respiratory tract infections: systematic review and meta-analysis of individual participant data BMJ 2017; 356 :i6583
  3. Ginde AA, Blatchford P, Breese K, et al. High-Dose Monthly Vitamin D for Prevention of Acute Respiratory Infection in Older Long-Term Care Residents: A Randomized Clinical Trial. J Am Geriatr Soc. 2017;65(3):496–503. doi:10.1111/jgs.14679

संबंधित लेख

सभी देखें

बीमारियाँ

रक्तचाप को कम करने की 8 प्राकृतिक पद्धतियाँ

बीमारियाँ

हाशिमोटो रोग में देखभाल संबंधी 6 प्राकृतिक तरीके

बीमारियाँ

क्या क्रकच ताल (Saw Palmetto) पुरुषों के स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकता है?