beauty2 heart-circle sports-fitness food-nutrition herbs-supplements

सिर दर्द तीन प्रकार के होते हैं और इन सब से कैसे बचें और इन का इलाज करें

एरिक मैड्रिड MD द्वारा

इस लेख में:


सिर दर्द एक आम समस्या है जिस कारण से लोग उनके चिकित्सक पास जाते हैं। जिंन्हें लम्बे समय से सिर दर्द की समस्या हो रही है, ऐसे बहुत सारे लोग दर्द सहन कर रहे हैं। अगर आपको पहले सिर दर्द नहीं होता था, पर अब हो रहा है, तो आप आपके चिकित्सक की राय लें और इसका सही निदान करवा कर इसकी वजह जानिए। कभी कभी, उच्च रक्तचाप, मस्तिष्क रक्तस्राव या कदाचित मस्तिष्क सूजन (ट्यूमर) के कारण भी सिर दर्द हो सकता है। जब निश्चित किया जाता है कि सिर दर्द का कारण गंभीर नहीं है, तो चिकित्सक व्यक्ति के सिर दर्द को निम्न वर्गों मेंसे किसी एक में वर्गीकृत करता है।

मानसिक तनाव के कारण सिर दर्द

लोग ज्यादातर इस प्रकार के सिर दर्द का अनुभव करते हैं, और इसी कारण से दवाई की दूकानों पर आम तौर पर सिर दर्द की दवाई मिलती हैं। ज्यादातर, प्रतिकुल परिस्थिति का दिमाग पर दबाव, चिन्ता और उदासी की वजह से होते मानसिक तनाव के कारण से सिर दर्द होते हैं। कई बार, मानसिक तनाव से जुड़े सिर दर्द की वेदना को बताया जाता है, जैसे कि कोई पट्टी को आपके सिर की चारों ओर कसकर लपेटा गया हो। या गर्दन की माँसपेशियों के साथ-साथ आपके सिर के पीछे दबाव का एहसास होता हो  

मानसिक तनाव से जुड़े सिर दर्द के आहार संबंधी कारण

  • रक्त में शर्करा का कम होना
  • कैफीन नहीं लेना या कभी कभी बहुत अधिक मात्रा मं लेना
  • सामान्य कार्बोहाइड्रेट्स और परिवर्तित खाद्य पदार्थों का अधिकतर उपभोग
  • गेहूँ, जौ आदि धान्यों में मौजूद प्रोटिन - ग्लूटेन के प्रति संवेदनशीलता
  • मीठा बनाने वाले या कृत्रिम खाद्य पदार्थ मिश्रित आहार के प्रति संवेदनशीलता

मानसिक तनाव से जुड़े सिर दर्द के लिए पूरक

  • मैग्नेसियम  ;–  ;मैग्नेसियम  मानव शरीर में सब से अधिक मात्रा में मिलने वाले खनिजों मेंसे एक है और 350 से अधिक जैवरासायनिक प्रतिक्रियाओं के लिए आवश्यक है। मैग्नीशियम आम तौर पर हरी पत्तेदार सब्जियों जैसे कि बंद गोबी और पालक में पाया जाता है। पूरक के रूप में, यह एक पाउडर या कैप्सूल के रूप में उपलब्ध होता है। इसे "मानसिक तनाव खनिज" के रूप में भी जाना जाता है और मानसिक तनाव से जुड़े सिर दर्द वाले लोग अक्सर इसके उपयोगी बताते हैं।. सेंध नमक, जो मैग्नेसियम से बना होता है, गर्म पानी में डालने पर यह फ़ायदेमंद भी हो सकता है। सिर दर्द की रोकथाम में मदद के लिए प्रतिदिन 250 से 500 मिलीग्राम की आवश्यकता होती है। 
  • विटामिन डी – दुनिया की 70% से अधिक आबादी में विटामिन डी की कमी है, जो कि सुबह 10 बजे से दोपहर 3 बजे के दौरान सूर्य के प्रकाश में पर्याप्त समय बिताकर पूरी की जा सकती है। विटामिन डी का कम स्तर मानसिक तनाव से जुड़े सिर दर्द के लिए बढ़ते जोखिम से जुड़ा है। जो लोग इसका पूरक लेते हैं, उन्हें रक्त में इस विटामिन के इष्टतम स्तर के लिए प्रतिदिन 1,000 IU से 5,000 IU के बीच की खुराक  की आवश्यकता होती है। कुछ लोगों को प्रतिदिन 10,000 IU तक की आवश्यकता हो सकती है। उच्च मात्रा में इस खुराक लेने वालों को अपने चिकित्सक से इसके बारे में जाँच करवानी चाहिए।

आधे सिर में दर्द

आधे सिर में दर्द अक्सर एक तेज़ चुभन, चक्कर आने वाले दर्द के रूप में अनुभव किया जाता है जिससे आम तौर पर मतली और प्रकाश के प्रति संवेदनशीलता की समस्या होती है। दुनिया भर में, एक अरब लोग इससे प्रभावित हैं। ये सिर दर्द साप्ताहिक, मासिक या कभी-कभी, और हर वर्ष केवल कुछ समय के लिए हो सकते हैं। कुछ अध्ययनों से पता चलता है कि सात में से एक व्यक्ति अपने जीवन के किसी मोड़ पर आधे सिर में दर्द का अनुभव करता है—तकरीबन पाँच में से एक महिला और 15 में से एक पुरुष इस से प्रभावित होते हैं।

आधे सिर में दर्द का कारण

"ज्ञानतंतुओं और रक्त वाहिकाओं की खराबी" से आधे सिर में दर्द उत्पन्न होता है, जो गरदन के उपरी हिस्से, जबडा और सिर के दर्द को नियंत्रित करने वाली प्रणाली (ट्राईजेमिनि-सर्वाईकल सिस्टम) को अयोग्य रुप से सक्रिय करता है। वैज्ञानिक रूप से जटिल होते हुए भी, यह समझना कि आधे सिर में दर्द कैसे शुरू होता है, जिस से डॉक्टरों को इसके रोकथाम और सर्वोत्तम उपचार करने में मदद मिलती है इसके अलावा, कोई आनुवंशिक घटक आधे सिर में दर्द का कारण हो सकता है क्योंकि इससे माँ और बेटियाँ दोनों अक्सर प्रभावित होती हैं। कई लोग जो चिकित्सक द्वारा निर्धारित की गई दवाईयाँ लेते हैं, उनके लिए ये कारगर हो सकतीं हैं।

आधे सिर में दर्द के लक्षण

  • अति पीडा कारक सिर दर्द
  • टीस मारने वाला दर्द
  • चक्कर आना और उल्टी
  • आभा की उपस्थिति, या टेढी मेढी रेखाओं का आभास होना
  • प्रकाश और ध्वनि के प्रति संवेदनशीलता 
  • विशेष असमर्थता और रुकावट भरे कामकाजी दिन

आधे सिर में दर्द के लिए कारणभूत आहार

  • कम रक्त-शर्करा
  • शराब - कुछ लोग शराब में मौजूद सल्फ़ाइट्स के प्रति संवेदनशील होते हैं
  • चीज़ - विशेष रूप से अमीनो एसिड टाइरामाइन के कारण बनता है, जो चीज़ को ज़्यादा दिनों तक संग्रह करने से बढ़ जाता है
  • कैफीन - कुछ लोगों में आधे सिर में दर्द के लक्षणों को शुरू करता है या इससे आराम दिलाता है
  • सामान्य कार्बोहाइड्रेट - परिवर्तित खाद्य पदार्थों में आम होता है - चीनी में विघटित होता है
  • ग्लूटेन संवेदनशीलता
  • कृत्रिम मीठाश (एस्परटेम आधे सिर में दर्द का एक सामान्य उत्प्रेरक है

पूरक और आधे सिर में दर्द से राहत

  • अल्फा लिपोइक एसिड– जर्नल ऑफ़ मेडिसिनल फ़ूड के 2017 के एक अध्ययन से पता चला है कि जब   शक्तिशाली एंटीऑक्सिडेंटअल्फा लिपोइक एसिड, हर दिन दो बार 400 मिलीग्राम की खुराक में लिया जाता है, तो बार-बार होने वाले माइग्रेन सिरदर्द की और अवधि को कम करने में मदद कर सकता है।
  • कोएंजाइम Q10 (CoQ10)- अध्ययनों से पता चलता है किCoQ10आधे सिर में दर्द को रोकने में मदद कर सकता है। 2017 के एक अध्ययन से निष्कर्ष निकाला गया “... एक अनुकूल सुरक्षा प्रोफ़ाइल के साथ CoQ10 बार-बार होनेवाले सिर दर्द को कम कर सकता है, और उन्हें कम गंभीर करते हुए उनकी अवधि को कम कर सकता है।” 2017 के एक अन्य अध्ययन ने भी आधे सिर में दर्द को रोकने में CoQ10 पूरकता का लाभ दिखाया। दवाई की मात्रा के लिए सलाह: कोएंजाइम Q10 100 मिलीग्राम से 300 मिलीग्राम प्रतिदिन
  • ओमेगा 3-फ़िश ऑइल-पोषण संबंधी तंत्रिका विज्ञानमें 2017 के एक अध्ययन से पता चला किओमेगा-3 फ़िश ऑइलमाइग्रेन सिरदर्द की अवधि को कम करने में मदद कर सकते हैं। 2017 के एक अध्ययन में, जिसके दौरान जिन विषयों ने फ़िश ऑइल औरकरक्यूमिन(हल्दी) लिया, उनमें आधे सिर में दर्द में कमी दिखाई दी। दवाई की मात्रा के लिए सलाह: ओमेगा 3-फ़िश ऑइल 2,000 से 4,000 मिलीग्राम प्रतिदिन। दवाई की इस मात्रा  को दिन में दो बार विभाजित करें।
  • फ़ोलिक एसिड-फ़ोलिक एसिडएक आम विटामिन है जो विशेष रूप से गर्भवती महिलाओं द्वारा लिया जाता है। 2015 के एक अध्ययनसे पता चला है कि जो महिलाएँ विशेष रूप से हरी पत्तेदार सब्जियों के रूप में फ़ोलेट के उच्च स्तर का सेवन करती थीं, उनमें आधे सिर में दर्द कम पाया गया। 2016 के एक अध्ययनमें इसी तरह के परिणाम प्राप्त हुए, जब फ़ोलिक एसिड को पूरक के रूप में लिया गया था।
  • मैग्नेसियम-पिछले एक दशक से, मैंने उन रोगियों कोमैग्नेसियमकी सिफ़ारिश की है जो आधे सिर में दर्द से पीड़ित हैं। वैज्ञानिक शोध मेरे चिकित्सकीय अनुभव का समर्थन करता है। 2017 के एक अध्ययनने निष्कर्ष निकाला गया कि मैग्नेसियम के उपयोग से आधे सिर में दर्द की रोकथाम की जा सकती है। सिर दर्द पर हुए एक 2018 के अध्ययन ने सिर दर्द की रोकथाम के लिए मैग्नेसियम के समान लाभ पाए। दवाई की मात्रा के लिए सलाह: 125 मिलीग्राम से 500 मिलीग्राम प्रतिदिन। कम से शुरूआत करें और आवश्यकता अनुसार खुराक बढ़ाएँ।
  • मेलाटोनिन-मेलाटोनिन, "नींद विटामिन" को माइग्रेन को रोकने में प्रभावी पाया गया है। एक 2017 के अध्ययनमें चिकित्सक द्वारा निर्धारित की गई दवाई वैल्प्रोइक एसिड के साथ 3 मिलीग्राम मेलाटोनिन की तुलना की गई थी। मेलाटोनिन को अधिक प्रभावी और अन्य प्रतिकुल असरों रहित पाया गया था। जर्नल ऑफ़ फ़ैमिली प्रैक्टिस के 2017 के एक अध्ययन में, मेलाटोनिन को माइग्रेन को रोकने के लिए चिकित्सक द्वारा निर्धारित की गई दवाई एमिट्रिप्टिलाइन जितना ही प्रभावी बताया गया। दवाई की मात्रा के लिए सलाह: मेलाटोनिन 3 मिलीग्राम से 10 मिलीग्राम हर रात सोने से कम से कम 2 घंटे पहले।
  • राइबोफ़्लेविन–  - इसेविटामिन बी2के रूप में भी जाना जाता है। यह विटामिन माइग्रेन को रोकने के लिए असरदार बताया गया है। जर्नल ऑफ़ क्लिनिकल फ़ार्मेसी एंड थेरप्यूटिक्समें 2017 के एक अध्ययन, जिसमें ग्यारह अध्ययनों का मूल्यांकन किया गया था, निष्कर्ष निकाला गया कि "राइबोफ़्लेविन सुसहनीय सस्ती, और वयस्क रोगी में   माइग्रेन की   आवृत्ति में कमी करने में असरदार है"। दवाई की मात्रा के लिए सलाह: वयस्क - राइबोफ़्लेविन प्रतिदिन 400 मिलीग्राम। बाल चिकित्सा - 100 से 400 मिलीग्राम हर दिन।
  • अदरक   अदरक में चक्कर रोकने के गुण होते हैं जो माइग्रेन के उपचार में सहायक हो सकते हैं। जो लोग आयुर्वेदिक दवाई लेते हैं, उन लोगों में इसका उपयोग आम है। 1990 के एक अध्ययन ने माइग्रेन के उपचार में अदरक की प्रभावशीलता से जुड़ी जानकरी बताई गई , जब कि 2014 के एक अध्ययन में अदरक को माइग्रेन का इलाज करते समय, इसे प्रिस्क्रिप्शन दवा समेट्रिप्टन जितना ही असरदार बताया गया। अदरक की चाय पीने से भी चक्कर आने के लक्षणों को कम करने में सहायता मिल सकती है। दवाई की मात्रा के लिए सलाह: अदरक 250 मिलीग्राम से 500 मिलीग्राम प्रतिदिन एक या दो बार।
  • फ़ीवरफ़्यू –  फ़ीवरफ़्यू(टेंसेटम पार्थेनियम) एक बारहमासी जड़ी बूटी है जो अपने औषधीय गुणों के लिए जानी जाती है। इसे अक्सर माइग्रेन को रोकने में मदद करने के लिए उपयोग किया जाता है, और अध्ययन   इस के कुछ लाभ बताते हैं। फ़ीवरफ़्यू को जबमैग्नेसियम  और  कोएंजाइम Q10  के साथ लिया गया, तब 2017 के एक अध्ययन  :के अनुसार यह संयोजन माइग्रेन की रोकथाम में प्रभावी पाया गया। दवाई की मात्रा के लिए सलाह: फ़ीवरफ़्यू प्रति दिन एक या दो बार 250 मिलीग्राम।
  • विटामिन सी  और  विटामिन डी–  -विटमिन सी–  और–  विटामिन डी–  –  भी माइग्रेन से जुड़े सिर दर्द वाले लोगों को लाभ पहुँचाते हैं।
  • एसेंशियल ऑइल - कैमोमाइल और लैवेंडर को ऊपरी होंठ पर लगाने या विसारक के साथ उपयोग किए जाने पर लाभ पहुँचाते हैं।

‌‌‌‌क्लस्टर सिरदर्द

क्लस्टर सिरदर्द तीसरा सबसे आम प्रकार का सिरदर्द है। ये सिरदर्द आमतौर पर 20 मिनट से दो घंटे तक रहता है। तनाव और माइग्रेन के सिरदर्द से अलग, क्लस्टर सिरदर्द एक ही तरफ़ होते हैं।

ये सिरदर्द पीड़ा वाले हिस्से की ओर बंद नाक (उसी ओर), लाल सूजी आँख और संभवतः बढ़ी हुई पुतली जैसे लक्षणों के साथ होते हैं। दुर्लभ मामलों में, किसी व्यक्ति की पलक बेजान-सी हो सकती है। 20 से 50 वर्ष की आयु के पुरुषों में इसका जोखिम सबसे ज़्यादा होता है और ये सिरदर्द आम तौर पर बिना किसी चेतावनी के शुरू होते हैं।

क्लस्टर सिरदर्द की रोकथाम

  • नियमित शारीरिक गतिविधि
  • योग
  • तम्बाकू खाने पर रोक
  • अच्छी नींद (अधिकांश लोगों को हर रात 7-9 घंटे की ज़रूरत होती है)
  • ऑक्सीजन थेरेपी तीव्र दर्द को रोकने और इलाज में मदद करने के लिए उपयोगी हो सकती है

पूरक और क्लस्टर सिरदर्द

  • मैग्नीशियम -1995 के एक अध्ययन से पता चला है कि क्लस्टर सिरदर्द के मामले में,मैग्नीशियम की कमी वाले लोगों में मैग्नीशियम का इंट्रावीनस इन्फ़्यूज़न फ़ायदेमंद हो सकता है। 1996 के एक अध्ययन में सिरदर्द वाले लोगों में इंट्रावीनस मैग्नीशियम का लाभ भी दर्शाया गया था। इन निष्कर्षों से संकेत मिलता है कि मैग्नीशियम का निम्न रक्त स्तर सिरदर्द के जोखिम को बढ़ाता है। सुझाई गई खुराक 125-500 मिलीग्राम प्रति दिन।
  • मेलाटोनिन -मेलाटोनिनआमतौर पर नींद के विटामिन के रूप में जाना जाता है और अनिद्रा से जूझ रहे लोगों द्वारा लिया जाता है। हालांकि, मेलाटोनिन सिरदर्द वाले लोगों के लिए भी फ़ायदेमंद हो सकता है। 2017 के एक अध्ययनसे निष्कर्ष निकाला गया, "मेलाटोनिन कई प्राथमिक सिरदर्द विकारों, विशेष रूप से क्लस्टर सिरदर्द और माइग्रेन के इलाज में प्रभावी हो सकता है।" 2019 के एक अध्ययनमें इसी तरह के निष्कर्ष सामने आए।
  • कुडज़ू अर्क -कुडज़ू अर्कएक जड़ से बनाया जाता है जो एशिया मूल का है, और इसका नाम जापानी भाषा से लिया गया है, जिसमें कुडज़ू का अर्थ "पौधा" है। 2009 के एक छोटे से अध्ययनसे पता चला। कुडज़ू फ़ायदेमंद साबित हुआ, हालांकि इसके लिए अधिक अध्ययन की आवश्यकता है।
  • एसेंशियल ऑयल्स–कुछ अध्ययनोंने बताया है कियूकेलिप्टसऔरपेपरमिंट ऑयलको दर्द वाले स्थान पर लगाने से लाभ मिलता है।

संदर्भ:

  1. Lipton RB, Newman LC, Cohen JS, Solomon S.सिरदर्द के आहार ट्रिगर के रूप में एस्पार्टेम। सिरदर्द. 1989;29(2):90‐92. doi:10.1111/j.1526-4610.1989.hed2902090.x
  2. Cavestro Cinzia, Bedogni Giorgio, Molinari Filippo, Mandrino Silvia, Rota Eugenia, and Frigeri Maria Cristina. औषधीय खाद्य जर्नल। अक्टूबर 2017
  3. Acta Neurol Belg. 2017 Mar;117(1):103-109. doi: 10.1007/s13760-016-0697-z. Epub 2016 Sep 26.
  4. न्यूरोल साइंस. 2017 May;38(Suppl 1):117-120. doi: 10.1007/s10072-017-2901-1.
  5. माइग्रेन के हमलों की आवृत्ति, गंभीरता और अवधि पर ओमेगा -3 फैटी एसिड के प्रभाव: यादृच्छिक नियंत्रित परीक्षणों की एक व्यवस्थित समीक्षा और मेटा-विश्लेषण Leila Maghsoumi-Norouzabad, Anahita Mansoori, Reza Abed & Farideh Shishehbor Nutritional Neuroscience Vol.0 , Iss. 0,0 Immunogenetics. 2017 Jun;69(6):371-378. Epub 2017 6 मई.
  6. Menon, S., Lea, R.A., Ingle, S., Sutherland, M., Wee, S., Haupt, L.M., Palmer, M. and
  7. Griffiths, L.R. (2015), माइग्रेन विकलांगता और आवृत्ति पर आहार फ़ोलेट का सेवन। सिरदर्द: सिर और चेहरे के दर्द का जर्नल, 55: 301-309. doi:10.1111/head.12490
  8. https://www.pharmacytimes.com/resource-centers/vitamins-supplements/can-large-doses-of-folic-acid-relieve-migraines
  9. Kovacevic G, Stevanovic D, Bogicevic D, et al. मैग्नीशियम प्रतिषेधोपचार के साथ बाल चिकित्सा माइग्रेन में विकलांगता, जीवन की गुणवत्ता और अवसादग्रस्तता और चिंता के लक्षणों का 6 महीने का पालन-पोषण। Magnes Res. 2017;30(4):133‐141. doi:10.1684/mrh.2018.0431
  10. von Luckner A, Riederer F. माइग्रेन प्रतिषेधोपचार में मैग्नीशियम-क्या एक साक्ष्य-आधारित तर्क है? एक व्यवस्थित समीक्षा. सिरदर्द. 2018;58(2):199‐209. doi:10.1111/head.13217
  11. रेस्टोर न्यूरोल न्यूरोसि. 2017;35(4):385-393. doi: 10.3233/RNN-160704. (मेलाटोनिन बनाम वैल्प्रोइक एसिड)
  12. Lyon C, Langner S, Stevermer JJ. PURLs: माइग्रेन की रोकथाम के लिए मेलाटोनिन पर विचार करें। जर्नल ऑफ़ फ़ैमिली प्रैक्टिस. 2017;66(5):320-322.
  13. Thompson DF, Saluja HS. राइबोफ़्लेविन के साथ माइग्रेन सिरदर्द का प्रतिषेधोपचार: एक व्यवस्थित समीक्षा। J Clin Pharm Ther. 2017;42:394–403. https://doi.org/10.1111/jcpt.12548
  14. J Ethnopharmacol. 1990 Jul;29(3):267-73.
  15. Maghbooli, M., Golipour, F., Moghimi Esfandabadi, A. and Yousefi, M. (2014), आम माइग्रेन के अपादान कारक उपचार में अदरक और सुमाट्रिप्टन की प्रभावकारिता के बीच तुलना। फ़ाईटोथर. Res., 28: 412–415. doi:10.1002/ptr.4996
  16. कोक्रेन डेटाबेस सिस्ट रेव।. 2015 Apr 20;4:CD002286. [Epub ahead of print]
  17. BMC Complement Altern Med. 2017 Aug 30;17(1):433. doi: 10.1186/s12906-017-1933-7.
  18. Shaik MM, Gan SH. आभा और मासिक धर्म के साथ माइग्रेन के खिलाफ़ रोगनिरोधी उपचार संभव के रूप में विटामिन अनुपूरक। Biomed Res Int. 2015;2015:469529. doi:10.1155/2015/469529
  19. Ghorbani Z, Rafiee P, Fotouhi A, et al. प्रासंगिक माइग्रेन के रोगियों में कैल्सीटोनिन जीन से संबंधित पेप्टाइड (CGRP) के अंतःक्रियात्मक सीरम स्तरों पर विटामिन डी पूरकता के प्रभाव: एक यादृच्छिक डबल-ब्लाइंड प्लेसबो-नियंत्रित परीक्षण के पोस्ट हॉक विश्लेषण। J Headache Pain. 2020;21(1):22. Published 2020 Feb 24. doi:10.1186/s10194-020-01090-w
  20. Med Hypotheses. 2014 Nov;83(5):566-9. doi: 10.1016/j.mehy.2014.08.023. Epub 2014 Sep 6. (Chamomile essential oil and migraines)
  21. European Neurology. 2012;67(5):288-91. doi: 10.1159/000335249. Epub 2012 Apr 17. (माइग्रेन के लिए लैवेंडर एसेंशियल ऑयल)
  22. मई ए (2005). क्लस्टर सिरदर्द: रोगजनन, निदान और प्रबंधन।
  23. Sang-Dol Kim, Effects of yoga exercises for headaches: यादृच्छिक नियंत्रित परीक्षणों की एक व्यवस्थित समीक्षा, फ़िजिकल थेरेपी साइंस जर्नल, 2015, Volume 27, Issue 7, Pages 2377-2380, Released July 22, 2015, Online ISSN 2187-5626, Print ISSN 0915-5287, https://doi.org/10.1589/jpts.27.2377
  24. Gelfand AA, Goadsby PJ. प्राथमिक सिरदर्द विकार के उपचार में मेलाटोनिन की भूमिका। सिरदर्द. 2016;56(8):1257‐1266. doi:10.1111/head.12862
  25. Long R, Zhu Y, Zhou S. माइग्रेन प्रतिषेधोपचार में मेलाटोनिन की चिकित्सीय भूमिका: एक व्यवस्थित समीक्षा। चिकित्सा (बाल्टीमोर). 2019;98(3):e14099. doi:10.1097/MD.0000000000014099
  26. Sewell, R.A. (2009), कुडज़ू को क्लस्टर सिरदर्द की प्रतिक्रिया। सिरदर्द: द जर्नल ऑफ़ हेड एंड फ़ेस पेन, 49: 98-105. doi:10.1111/j.1526-4610.2008.01268.x
  27. https://www.healthline.com/health/cluster-headache-natural-treatment

संबंधित लेख

सभी देखें

बीमारियाँ

कैटरेक्ट यानी मोतियाबिंद को रोकने के 10 प्राकृतिक उपाय

बीमारियाँ

थायराइड विकारों के 10 अंतर्निहित कारण

बीमारियाँ

अधिक अवसाद का अनुभव कर रहें है? पेश हैं इससे लड़ने के 5 प्राकृतिक तरीके